बच्चों को दिया गया कर्रिएर का मागदर्शन…..

0
11

उत्तर प्रदेश:औरैया जनपद मे शनिवार को नगर के पी बी आर पी अकादमी मे करियर काउंसलिंग सेशन संपन्न हुआ जिसमे 10th, 11th और 12th के विधार्थीयों ने जमकर अपनी सभागिता दिखाई, कार्यक्रम का शुभारम्भ सरस्वती माँ पर पुष्प अर्जित करके हुआ ! कार्यक्रम मे अतिथि मे रेहाना बनो ( यात्री मालकर अधिकारी ,डॉ इतिफार हासन प्राचार्य विवेकानंद विद्यालय , डिप्टी सीएममो डी.एन.कटिहार, डॉ एसके दीक्षित डी एल ओ, चिकित्सा विभाग,भरत गुप्ता चार्टर्ड अकाउंटेंट, विजया प्रधानाचार्य वैदिक इंटर कॉलेज दिबियापुर, संतोष त्रिपाठी एस्टेट मैनेजर पंजाब नेशनल बैंक दिबियापुर, कपिल गुप्त संस्थापक क्रॉनिक अकैडमी औरैया, अमित श्रीवास्तव रिसोर्स पर्सन मंगलमय यूनिवर्सिटी नोएडा राकेश तिवारी (प्रवक्ता जूलॉजी विवेकानंद महाविद्यालय आदि लोग मैजूद रहे जिन्होंने बच्चों को मार्गदर्शन किया !

 

उन्होंने बच्चों को बताया कि करियर बनाना या सेट करना मुश्किल नहीं है। मुश्किल तो ये है कि आप कौन सा करियर चुनेंगे और उस पर कैसे आगे बढ़ेंगे? क्योंकि बच्चों को ये समझने में ही आधी जिंदगी बीत जाती है कि उनकी पसंद क्या है, उनके अंदर क्या अच्छा करने की शक्ति है और वो किस चीज में करियर बना सकते हैं। इसलिए नौवीं कक्षा में आते ही बच्चों को करियर काउंसलिंग या करियर कोचिंग देने की बात आजकल काफी कही जाती है।

उन्होंने बातया कि कई बार देखा गया है कि ऐसे कई छात्र होते है जो अपने किसी दोस्त या रिश्तेदार के कहने पर करियर का चुनाव कर लेते है। गलत करियर में जब काफी समय हो जाता है तो उन्हें एहसास होता है कि वे तो किसी और जगह जाना चाहते थे लेकिन गलती से इस करियर में आ गये है। अगर आप भी नही चाहते कि गलत करियर चुनकर आप अपना समय और पैसा दोनों बर्बाद करें तो करियर काउंसलिंग की मदद से एक सही करियर का चुनाव कर सकते है।

 

उन्होंने बताया कि अपनी लाइफ में हर कोई सफल होना चाहता है लेकिन सभी को एक जैसी सफलता मिले ये जरूरी तो नही। जिंदगी में सफल होने का एक ही रास्ता है, सही समय पर सही करियर चुनना। लेकिन अक्सर देखा गया है कि छात्र इस बात को लेकर सबसे ज्यादा परेशान रहते है कि हम किस फील्ड का चुनाव करें और किसका नही।

आपके करियर का चुनाव आपसे ही शुरू होता है, आपका व्यक्तित्व, आपका शौख, आपका रुझान ही आपके करियर के चनाव में सहायक होगा| बस ज़रूरत है तो सही समय पर अपने रूचि का पता लगाने की और उसके बारे में जानने की| जैसे की आपको सही ऑप्शन समझ नहीं आ रहा की आपको आगे क्या करना चाहिए तो सबसे सही और आसान तरीका यह है कि आप जितने भी करियर ऑप्शन से अवगत हैं उन्हें एक पेपर पर लिख लें, जीएम इंजीनियर डॉक्टर टीचर आईएएस पीसीएस आईपीएस सभी सिविल से जुड़ी सर्विस या एक्सफोड़ में भी यदि आप का रुझान है तो उसमें भी अपने कैरियर का चयन कर सकते हैं आप चाहे तो अपने पेरेंट्स, दोस्त और आस-पड़ोस के लोगों से भी करियर ऑप्शन्स जानने में सहायता ले सकते हैं|इस मौके पर विद्यालय के संस्थापक श्री संतोष पांडे एवं आशा पांडे, प्रबंधक इंजीनियर दिनेश पांडेय एवं सोनम पांडे, प्रधानाचार्य सौरव कश्यप, उप प्रधानाचार्य प्रशांत पुरवार,अनुज चौबे , अंशुमान सिंह,लालजी,मनीष पांडे, दिव्या दिवाकर, अमित यादव,रेनू गुप्ता,पत्रकार, अखिलेश मिश्रा, संदीप योगी, आदि शिक्षक मौजूद रहे

रिपोर्ट:सुरेन्द्र कुमार वर्मा सीतापुर

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here